आयोजन

श्री देवनारायण भगवान जन्म स्थान मालासेरी में हुए आयोजन

आयोजन

राम जन्म भूमि ट्रस्ट में गुर्जर समाज की भागीदारी हो- पोसवाल

आसींद गुर्जर समाज के अंतरराष्ट्रीय तीर्थ स्थल में भगवान श्री देवनारायण की जन्म स्थली व माता साडू की अखंड तपोभूमि मालासेरी डुगरी पर आज दोपहर मंदिर पुजारी हेमराज पोसवाल वह जम्मू कश्मीर से आए इतिहासकार खुर्शीद भाटी गुर्जर ने शुक्रवार को प्रेस कोप्रस की पुजारी हेमराज पोसवाल ने बताया कि राम जन्म भूमि का सर्वोच्च न्यायालय से जो फैसला आया है वह पुरातत्व विभाग के एएसआई की रिपोर्ट के, के, मोहम्मद साहब ने रिपोर्ट प्रस्तुत की उन्हीं के साक्ष्य के आधार पर यह महत्वपूर्ण फैसला आया है जिसमें उन्होंने मंदिर के अवशेष आधार गुर्जर प्रतिहार से लिया गुर्जर प्रतिहार भगवान श्री राम के मंदिर का निर्माण 9वीं से 12वीं शताब्दी के बीच गुर्जर प्रतिहार ने करवाया था इसी तथ्य के रिपोर्ट के आधार पर सर्वोच्च न्यायालय ने इस महत्वपूर्ण निर्णय को इसी के आधार पर फैसला किया भगवान श्री राम महाराजा दशरथ जी के पुत्र हैं महाराजा दशरथ को वाल्मीकि रामायण के अनुसार महान गुर्जर कहां गया इसलिए आज जो अयोध्या में रामलला मंदिर निर्माण ट्रस्ट बनाने का जिम्मेदारी सर्वोच्च न्यायालय द्वारा भारत सरकार को सौंपी इस ट्रस्ट में गुर्जर समाज के प्रतिनिधि को महत्वपूर्ण भूमिका मैं रखने की मांग की गुर्जर समाज को इस ट्रस्ट में मूलआधार मे लिया जाए क्योंकि हिंदुस्तान में मूल तत्व में गुर्जर ही आधार है और हिंदुस्तान की मूल संस्कृति गुर्जरों पर ही आधारित है राम जन्मभूमि का निर्णय को लेकर भगवान श्री देवनारायण की जन्म स्थली पर गुर्जर समाज का अंतरराष्ट्रीय धार्मिक आस्था का मूल केंद्र जन्मस्थली मालासेरी डूंगरी है अंतरराष्ट्रीय गुर्जर समाज की इस भूमि की ओर से पुरजोर मांग है कि भगवान राम लला के ट्रस्ट में गुर्जर समाज की महत्वपूर्ण भागीदारी हो इस मंदिर निर्माण में गुर्जर प्रतिहारों ने करवाया इसलिए गुर्जर समाज की मांग है कि भगवान राम की पूजा अर्चना का अधिकार गुर्जर समाज को मिले इसके अतिरिक्त भी भगवान विष्णु के जो अवतार हुए उसमें मुख्यता भगवान श्री देवनारायण जो 11 कला के अवतार कहलाए भगवान श्री राम 14 कला के अवतार कहलाए और भगवान श्री कृष्ण 16 कला के अवतार कहलाए यह अवतार मुख्यता गुर्जर समाज से संबंधित है इसलिए अंतरराष्ट्रीय तीर्थ स्थल भगवान श्री देवनारायण की जन्म स्थली विकास समिति व गुर्जर समाज की ओर से पुरजोर मांग है कि इस ट्रस्ट में गुर्जर समाज को सम्मिलित किया जाए इस मौके पर समिति के अध्यक्ष जयदेव चाड नगर पालिका अध्यक्ष धनराज गुर्जर कोषाध्यक्ष शंभूलाल हलसर पुजारी देवीलाल पोसवाल अंबालाल पोसवाल, नारायण लाल, हिंदू पोसवाल भैरुलाल कोली (दायमा ) ईश्वर पोसवाल अंबालाल भाटिया सहित गुर्जर समाज के कई लोग मौजूद रहे